दुनिया में इससे मीठा कुछ हो तो बताइए...खुशदीप


आप कभी न कभी तो दूसरे की किसी बात पर ज़रूर झल्लाते होंगे...मैं भी झल्लाता हूं...चलो झल्लाने की बात बाद में, पहले कुछ मीठा हो जाए..ठंडा ठंडा, कूल कूल...क्या मात्र पच्चीस हज़ार डॉलर का चॉकलेट संडे खाएंगे...क्या कहा...नहीं...तो चलिए हुजूर उसकी शक्ल तो देख ही लीजिए...



ये रहा न्यूयॉर्क में बना वो चॉकलेट संडे जिसे चार साल पहले गिनीज़ बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड्स में दुनिया की सबसे महंगी आइसक्रीम के तौर पर दर्ज़ किया गया था...

आप कहेंगे कि ये चार साल पुराना राग मैं क्यों आपको सुना रहा हूं...वजह है...मैं आपको मिठास का एहसास कराना चाहता हूं...मिठास पच्चीस हज़ार डॉलर वाले इस संडे में ज़्यादा है या नीचे जो मैं आइसक्रीम का किस्सा सुनाने जा रहा हूं, उसमें है, आप खुद ही तय कीजिए...और मुझे बताना न भूलिएगा...

एक छोटा लड़का आइसक्रीम पॉर्लर में आइसक्रीम खाने गया...


उसने वेटर से पूछा, संडे के लिए मुझे कितने पैसे देने होंगे...


पार्लर में भीड़ ज़्यादा होने की वजह से ऑर्डर निपटाने की जल्दी में लगे वेटर ने कहा...40 रुपए...

लड़के ने ये सुनकर जेब में पहले पैसे गिने और फिर मायूस होकर बोला...सादी आइसक्रीम कितने की होगी...


ये सब देखकर वेटर झल्लाने की स्थिति में पहुंच चुका था...फिर भी अपने पर काबू रखकर तल्ख आवाज़ में बोला...30 रुपये...


लड़के ने कहा...मेरे लिए सादी आइसक्रीम ही प्लीज़...


वेटर ने ऑर्डर लाकर दिया...साथ ही बिल भी...






लड़के ने आइसक्रीम खाई और काउंटर पर आइसक्रीम का बिल देकर चला गया...


थोड़ी देर बाद वेटर प्लेट उठाने के लिए लड़के वाली टेबल पर गया तो चौंक गया...


टेबल पर दस रुपये के सिक्के पड़े थे...टिप के लिए...


अब वेटर की आंखों से झर-झर आंसू बह रहे थे....

आइन्दा आप भी किसी पर झल्लाएं तो पहले सामने वाले के जज्बे को ठीक तरह से समझने की कोशिश ज़रूर कीजिएगा...

एक टिप्पणी भेजें

16 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
  1. मिठाई मीठा नहीं होता .. वास्‍तव में व्‍यवहार मीठा होता है !!

    जवाब देंहटाएं
  2. अपने सेवार्थी के प्रति तल्खी कभी मीठी नहीं हो सकती।
    हमारे यहाँ तो नमक को भी मीठा कहते हैं।

    जवाब देंहटाएं
  3. मुझे तो सब से मीठा दर्द लगता है। प्रेरक पोस्ट। शुभकामनायें\

    जवाब देंहटाएं
  4. वाकई प्रेरक प्रसंग है!

    जवाब देंहटाएं
  5. waah bhai saheb
    is kisse me hazaar kavitaon ki aahat anubhav hui........

    jai hind !

    जवाब देंहटाएं
  6. टिप के साथ वाली आईसक्रीम बहुत मीठी लगी .. इतनी मीठी कि आईसक्रीम वाला भी पिघल गया ..

    जवाब देंहटाएं
  7. बेहतरीन प्रसंग।
    कभी कभी जो दिखता है वह सच नहीं होता.... पहले बात की तह तक जानी चाहिए।
    आभार।

    जवाब देंहटाएं
  8. शब्दो की मिठास ही वास्तविक मिठास होती है।

    जवाब देंहटाएं
  9. ३३ % टिप देखकर तो हम भी झल्ला रहे हैं ।
    आज तक इतनी कभी दी नहीं ना ।

    जवाब देंहटाएं
  10. बहुत ही बढ़िया प्रेरणात्म्क प्रसंग ..मिठाई से मीठा व्यवहार ज्यादा मायने रखता है।

    जवाब देंहटाएं
  11. काश हम कुछ सीख पायें .....
    शुभकामनायें आपको !

    जवाब देंहटाएं
  12. विदेशी बच्‍चा था इसीलिए टिप का महत्‍व समझता है हमारे यहाँ का तो उल्‍टा ले जाता। वैसे बहुत श्रेष्‍ठ प्रेरक प्रसंग हैं। कई बार हम दूसरों की भावनाएं समझे बिना प्रतिक्रिया कर देते हैं।

    जवाब देंहटाएं