शनिवार, 24 सितंबर 2011

जलने पर रामबाण है अंडे का फंडा...खुशदीप


एक फॉर्म हाउस मालिक शाम के धुंधलके में अपने लॉन में कीटनाशकों का छिड़काव कर रहा था...ये देखने के लिए ड्रम में कितना कीटनाशक बाकी बचा है, उसने लाइटर की रोशनी में ढक्कन खोलकर झांकना चाहा...ड्रम से गैस का भभका निकला और फॉर्महाउस मालिक का चेहरा आग में झुलसने लगा..

.उसकी चीख-पुकार पड़ोस के घर में रहने वाली महिला ने भी सुनी...किचन की खिड़की से महिला ने फॉर्म हाउस मालिक की हालत देखी...उसने बिना वक्त गवाएं किचन से अंडों की ट्रे उठाई और बाहर भागी...फौरन उसने अंडों को तोड़-तोड़ कर पीला योक वाला हिस्सा अलग कर व्हाईट (एल्बुमिन) वाला पार्ट फॉर्महाउस मालिक के चेहरे पर लगाना शुरू कर दिया...

थोड़ी देर में वहां एंबुलेंस पहुंच गई...एंबुलेंस से बर्न स्पेशलिस्ट बाहर निकले तो उन्होंने फॉर्महाउस के मालिक पर एग व्हाईट मला देख कर पूछा कि ये किसने किया...सबने महिला की ओर इशारा किया...पूरी मेडिकल टीम ने महिला की सराहना करते हुए कहा कि उसकी प्रेसेंस ऑफ माइंड से फॉर्महाउस मालिक का चेहरा बिगड़ने से बच जाएगा...



कुछ हफ्ते अस्पताल में रहने के बाद फॉर्म हाउस मालिक ने घर वापस आने पर पहला काम पड़ोसी महिला के घर जाकर फूलों का गुलदस्ता दिया...फॉर्म हाउस मालिक के चेहरे की त्वचा किसी बच्चे की त्वचा की तरह ही मुलायम थी....

फायरमैन को भी फर्स्टएड के लिए पहला पाठ यही पढ़ाया जाता है कि आग से जले शरीर के हिस्से पर पहले खूब ठंडा पानी डाला जाए...जब त्वचा की परतें पर्याप्त ठंडी हो जाए तो जले हिस्से पर अंडे के व्हाइट का लेप कर दिया जाए...अंडे के व्हाईट हिस्से में कोलेजन (विटामिनों से भरा प्लासेंटा) होता है...यही कोलेजन कुछ ही दिन में जले हुए हिस्से की त्वचा को दोबारा विकसित करने में चमत्कारिक काम करता है...

(ई-मेल से मिली सूचना जनहित में प्रसारित)

17 टिप्‍पणियां:

  1. अब देखते हैं कौन है जो उनको कुछ कह सके ?
    अब हम आ गए हैं मैदान में ऐसे , जिससे सांप भी न मरे और लाठी भी टूट जाए.

    जिस बात को रखना चाहो गुप्त
    उसे मित्रां से भी रखो लुप्त

    सो सॉरी बता न पाएंगे कि हैं कौन हम ?
    परंतु कोई पहचान जाए तो इंकार हम न करेंगे !!!

    http://www.museke.com/love_songs_playlist

    उत्तर देंहटाएं
  2. खुशदीप जी सही इलाज हे जी, धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  3. हैं भई...अब परीक्षण कैसे करें...?

    बेहतर जानकारी....

    उत्तर देंहटाएं
  4. अच्छी जानकरी दी...जनोपयोगी.

    उत्तर देंहटाएं
  5. यह जानकारी तो हमें भी नहीं थी ।
    अंडे के व्हाईट हिस्से में कोलेजन (विटामिनों से भरा प्लासेंटा) होता है---??

    उत्तर देंहटाएं
  6. देखिये जी हेअडिंग सही दिया करे आज कल बहुत कुछ बहुत जगह जल रहा हैं क्या ये अगर अंडे की सफेदी का लेप काम कर सकता था तो आप ने अभी तक कहीं भी इस लेप को क्यूँ नहीं बताया .
    और अगर हर प्रकार की जलन से ये राहत नहीं दिला सकता तो ये हेअडिंग बिलकुल गलत हैं
    मेरी आपत्ति दर्ज की जाए और शीर्षक तुरत बदला जाये ना बदलने की सूरत में मेरा उठाया हुआ कदम आप को मान्य हो गा और
    बता कर कदम उठाने में आप को ये कहने का मौका नहीं होगा की बताया नहीं
    भ्रामक जानकारी हर जले पर ना तो फायर man कुछ कर सकता हैं ना बेचारा अंडा

    उत्तर देंहटाएं
  7. ये तो बहुत ही उपयोगी जानकारी है।

    उत्तर देंहटाएं
  8. अंडे के अलावा कोई और लेप भी हो सकता है खुशदीप भाई.
    नहीं तो द्विवेदी जी का 'बेचारा अंडा'
    सतीश जी की 'बेचारी मुर्गी'का धर्म
    संकट है.

    उत्तर देंहटाएं
  9. बढिया उपयोगी जानकारी...

    आभार.....

    उत्तर देंहटाएं
  10. इसी प्रकार गवारपाठे के गुदे का प्रयोग भी लाभकारी है।

    उत्तर देंहटाएं
  11. यह जानकारी scientific hai. Behatar hoga anda desi murgi ka ho, aur collogen think se separate kiya jana chahiye, isme yellow part nahi hona.

    उत्तर देंहटाएं