रविवार, 2 जुलाई 2017

क्या ताऊ #हिन्दी_ब्लॉगिंग का ठेकेदार है...खुशदीप


1 जुलाई...अंतरराष्ट्रीय हिन्दी ब्लॉग दिवस...क्यों मना...किसने इस दिन को चुना...आदि आदि...ज़ाहिर है ऐसे सवाल पूछे जा रहे हैं...पूछे भी जाने चाहिए...सभी हिन्दी ब्लॉगर्स के मन में ये आने चाहिए...

कुछ कहूं इससे पहले अपनी इस पोस्ट के शीर्षक के औचित्य को स्पष्ट कर दूं...बिना कोई संकोच कह रहा हूं कि एक खांटी पत्रकार की तरह अपनी स्टोरी पर सब को आकर्षित करने के लिए ये ‘offensive  heading’ लगाई है...



अब आता हूं कि 1 जुलाई को अंशुमाला के प्रस्ताव पर ताऊ रामपुरिया की ओर से अंतरराष्ट्रीय हिंदी ब्लॉग दिवस का डंका बजाने और ताऊ के आदेश पर ही मेरी और से #हिन्दी_ब्लॉगिंग के हैशटैग की पहल करने का क्या असर हुआ...आप खुद ही बताइए कि 1 जुलाई को हम सबको ऐसा नहीं लगा कि हम फिर ब्लॉगिंग के 6-7 साल पहले वाले चहल-पहल दौर में पहुंच गए...ताऊ ने पुकारा और सब दौड़े चले आए...

क्या ब्लॉग, क्या फेसबुक और क्या ट्विटर, हर जगह शनिवार को #हिन्दी_ब्लॉगिंग छाया रहा...यही लगा कि हर हिन्दी ब्लॉगर शिद्दत के साथ चाहता है कि फिर दिल दो ब्लॉगिंग को...

1 जुलाई को हिन्दी ब्लॉगर्स ने ना सिर्फ जमकर पोस्ट लिखीं बल्कि टिप्पणियां भी खूब कीं...ऐसा उत्साह देखकर वाकई दिल कह उठा- 'ब्लॉगों में बहार है'...

बहुत सारी पोस्ट लिखी गई हैं...लेकिन मैं अब तक जितनी पोस्ट के लिंक ढूंढ पाया वो यहां दे रहा हूं...और भी जितने मिलेंगे वो इस पोस्ट में जोड़ते जाऊंगा...अगर किसी की पोस्ट छूट गई है तो यहां कमेंट में लिंक दे दें...

चलिए अब लीजिए 1 जुलाई की उन पोस्ट के लिंक जो मैं ढूंढ सका...ये बता दूं कि कई ब्लॉगर्स के एक से ज्यादा ब्लॉग भी हैं और उन्होंने हर ब्लॉग पर पोस्ट डाली लेकिन यहां एक ब्लॉगर की सिर्फ एक पोस्ट को ही लिया गया है...

1.Taau (PC Rampuria)


2.Sameer Lal

3. Khushdeep Sehgal

4. Kajal Kumar

5. Harkirat Heer

6.Mukesh Kumar Sinha

7. Gopal Krishna Awadhia

8. Somesh saxena

9. Satish Saxena

10. Rohit Kumar

11. Ravindra Prabhat

12.Soni Garg Goyal

13. Sonal Rastogi

14. Nirmala Kapila

15. Vinod Pandey

16. Harsh Vardhan Tripathi


17. Neeraj Goswami

18. T S Daral

19. Anup Shukla

20. Unmukt

21. Ravi Ratlami

22. Amit Srivastava

23. Anshumala

24.  Dinesh Rai Dwivedi

25. Atul Srivastava

26. Anurag Sharma

27. Vivek Rastogi

28. Lalit Sharma

29. Rashmi Ravija

30. Praveen Shah

31. Ajeet Gupta

32. Shikha Varshanay

33. Shahnawaz  

34. Archana Chaoji

35. Devendra Pandey

36. P C Godiyal

37.Rekha Srivastava

38. Raja Kumarendera Singh Sainger

39. Shefali Pande

40. Dilip Kabathekar

41. Mukesh Kumar Tiwari

42. Meenakshi

43. Kewal Ram

44. Bhartiya Nagrik

45. Dhiru Singh

46. Ashok Akela (Saluja)

47. Girish Billore Mukul

48. Antar Sohel

49. Ajay Kumar Jha

50. Roopchandra Shastri Mayank

51 Sarkari Naukari Blog

52 Gangasharan Singh

53 Sangita Puri

54. Kulwant Happy

55. Anulata Raj Nair

56. Sanjeeva Tiwari

57. Gagan Sharma

58. Y chaturvedi

59. Sadhna Vaid

60. Maira (Archana Chaoji)

61. Yunus Khan

62. Sanjay Bengani

63. Priyanka Gupta

64. Anju Sharma

65. Rajesh Utsahi

66. Himanshu Pandey67


67. Kamal Sharma

68. Sandhya Sharma

69. Rita Shekhar Madhu

70. Archana Tiwari


स्लॉग ओवर


ब्लॉगिंग, फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर कई लोगों की आदत है कि अपनी हर छोटी बड़ी बात, फोटो आदि ठेल देते हैं...ऐसे में मक्खनी का मक्खन से ये सवाल पूरी तरह जायज़ हो जाता है...


28 टिप्‍पणियां:

  1. वाह बहुत बेहतरीन काम किया आपने खुशदीप भाई इससे पाठकों को एक ही स्थान पर बहुत सारी पोस्ट पढ़ने को मिल जाएंगे शुक्रिया और आभार आपका

    उत्तर देंहटाएं
  2. वाह ये हुई न बात एक जगह सारे लिनक्स मिल जाएँ तो कौन कमबख्त जाएगा ब्लोगिंग की गलियां छोड़कर

    उत्तर देंहटाएं
  3. बेशक! निर्विवाद! पुराने दिनों में भी ब्लॉग जगत को एक छत के नीचे लाने में taau रामपुरिया जी का बड़ा योगदान था और अब भी सबको इस अनुष्ठान के लिए बुलाना और सबसे अधिक ब्लोगों तक पोस्ट से संबधित बातें मय टिप्पणियाँ taau जी की ही दिखीं!
    आशा है ,आप सभी का प्रयास हिंदी ब्लॉग जगत में फिर से रौनक लौटा लाएगा.
    समय की कमी के चलते अगर हम ब्लॉग नही लिख पाते हैं तो महीने या सप्ताह में एक दिन तय कर लें जिस दिन कुछ पंक्ति ही लिखकर इस क्रम को जारी रखा जाए.
    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  4. सराहनीय ...एक साथ कईं लिंक्स मिले आभार ...

    हम भी साथ हैं http://geet7553.blogspot.in/2017/07/blog-post.html

    उत्तर देंहटाएं
  5. Achha prayas hai....kafi post ho gaya.....bakiya blogwood me tau ka naam kaun nai janta hai....ib tau ne jo kah diya o kah diya

    उत्तर देंहटाएं
  6. आपने वाकई एक सच्चे पत्रकार का धर्म निभाया यानि आपको सबको लिंक देने थे सो आपने गर्मागर्म हैडिंग बनाकर सबको बुला ही लिया.

    आपके निर्देशन में हम इस मुहिम में सफ़ल होकर ही रहेंगे, बहुत शुभकामनाएं.
    रामराम
    #हिन्दी_ब्लॉगिंग

    उत्तर देंहटाएं
  7. शर्त लगा लिजीये, मक्खन यह फ़ोटो नही डालेगा क्योंकि वो मक्खनी के लठ्ठ को अच्छी तरह जानता है.:)
    रामराम
    #हिन्दी_ब्लॉगिंग

    उत्तर देंहटाएं
  8. बेहतरीन प्रयास ।
    दिनेश शर्मा
    www.amansandesh.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  9. ब्लॉगों में बहार है आज इतवार है
    #हिन्दी_ब्लॉगिंग

    उत्तर देंहटाएं
  10. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल सोमवार (03-07-2016) को "मिट गयी सारी तपन" (चर्चा अंक-2654) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    उत्तर देंहटाएं
  11. बधाई कुछ गर्मी तो आयी मगर आवश्यकता इस उत्साह को बनाये रखने की है ! हमें विस्तार से विगत का आकलन करना होगा अन्यथा कुछ दिनों में सब जोश ठंडा हो जाएगा !
    फेसबुक के शुरू होने के साथ अधिकतर ने ब्लॉग लेखन बंद कर दिया इसके पीछे उन्हें कमेंट का न मिलना या कमेंट सख्या में भारी कमी थी,लोगों का अधिक ध्यान फेसबुक पर था जहाँ आसानी से लाइक और कमेंट मिल रहे थे और अधिक इंटरैक्टिव भी थे ! अपनी रचनाओं पर लोगों का ध्यान न देख कर निराशा और अपमान बोध जैसा महसूस हुआ और सबने अपना रुख फेसबुक की और ही किया !
    मेरे ब्लॉग पर आने वाले कमेंट में 80 प्रतिशत की गिरावट आयी मगर मेरा लेखन इस कारण कभी कम न हुआ , ब्लॉग लेखन का उद्देश्य मेरे लेखन का संकलन मात्र रहा था मेरा विश्वास था कि मैं बेहतर कंटेंट दे रहा हूँ जिनमे बनावट और लोगों को प्रभावित करने की चेष्टा रंचमात्र भी नहीं थी !
    मेरा अभी भी दृढ विश्वास है कि गूगल के दिए इस मुफ्त प्लेटफॉर्म से बेहतर और कोई प्लेटफॉर्म नहीं है जहाँ लोग अपनी रचनाये सदा के लिए सुरक्षित रख सकते हैं ! सो ब्लॉगर साथियों से अनुरोध है कि वे लिखें और क्वालिटी कंटेंट लिखें ताकि आज न सही कल आने वाली पीढ़ी उनकी अभिव्यक्ति समझे पुरानी पीढ़ी को अपने साथ महसूस कर सके !
    सस्नेह मंगलकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  12. भाई जी
    पहले स्लाग-ओव्हर की तारीफ़ ........
    अब बताऊँ की मैंने नियमित लेखन छोड़ा नहीं ..... मुझे अंशुमाला जी का ताऊ को रोवोग करना पसंद आया पर ललित भाऊ इस समय भड़के भये हैं .. वे यकीन नहीं कर पा रहे कि वो दौर आएगा. अवश्य आवेगा. बस प्रिंट मीडिया के साथ टांका भीड़ जाए . या भाई किसी खबरिया चैनल को सेट करवा दो जी बस बाकी हम सब सम्हाल लेंगें
    अगस्त में दिल्ली आना है मुलाक़ात में सैटिंग तय

    उत्तर देंहटाएं
  13. वाह सराहनीय खुशदीप जी .अर्चना की पोस्ट द्वारा यहाँ पहुँची .मेरा ब्लॉग है --yehmera jahaan

    उत्तर देंहटाएं
  14. अंतरराष्ट्रीय हिन्दी ब्लॉग दिवस पर विभिन्न ब्लॉग पर लिखी पोस्ट लिंक एक साथ देखना सार्थक पहल लगी, धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  15. ये बढिया है.......सभी के लिंक एक ही जगह पर...आभार
    प्रणाम स्वीकार करें

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहुत बेहतरीन सराहनीय

    #हिन्दी_ब्लॉगिंग

    उत्तर देंहटाएं
  17. ब्लॉग दिवस के नाम पर ताऊ जी इतिहास रच गए ...उन्हें बहुत बधाई ...!

    उत्तर देंहटाएं
  18. एक साथ इतने लिंक्स मिल गए, पढ़ने के लिए बहुत है :)

    उत्तर देंहटाएं
  19. वाह अब लगता हे बागो मे बहार हे... सभी बिछडे मित्र एक साथ, धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  20. भाई, एक जुलाई को मैं अहमदाबाद की खाक छान रही थी, सो पोस्ट न लिख पाने का दुख है. ये अलग बात है कि महीने दो महीने में मैं एक पोस्ट ज़रूर लिखती रही हूं. सारे लिंक मालिकों को बधाई :)

    उत्तर देंहटाएं
  21. चलो फिर शुरू हुई एक पहल ...बढ़ती रहनी चाहिए यह उमंग...

    उत्तर देंहटाएं
  22. वाकई इस प्रयास जे बाद ब्लॉग जगत में फिर से रौनक लौटने लगी है...

    उत्तर देंहटाएं