बुधवार, 12 फ़रवरी 2014

देशनामा नहीं आपका प्यारनामा...खुशदीप

 नवाज़िश, करम, मेहरबानी, शुक्रिया...

कितना कुछ भी क्यों ना कह लूं लेकिन आप सब के प्यार का कर्ज़ नहीं चुका सकता...ये सब  आप की दुआओं का नतीजा है कि देशनामा को ब्लॉग अड्डा Win14 में हिंदी कैटेगरी में टॉप ब्लॉग घोषित किया गया है...ब्लॉग अड्डा ने आधिकारिक तौर पर आज ई-मेल के ज़रिए
मुझे ये सूचना दी...






अभी मुझे देशनामा की मेरी ट्रॉफी तो नहीं मिली लेकिन उसकी शक्ल ऐसी होगी...ये ट्रॉफी फोटोग्राफी और वीडियो कैटेगरी में जोशी डेनियल को मिली है...

ब्लॉग अड्डा ने 9 फरवरी को मुंबई के कोर्टयार्ड, मेरियट होटल में Win14 के नाम से पहली बार भव्य ब्लॉगिंग कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया ...इस कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के तौर पर शेखर कपूर ने शिरकत की...शेखर कपूर खुद भी ब्लॉगर हैं...उन्होंने एक घंटे के अपने संबोधन में बताया कि किस तरह ब्लॉगिंग और सोशल मीडिया की वजह से समाज में बदलाव आया है...


शेखर कपूर के साथ वसुंधरा दास, अनग देसाई, कवि अरसु, कार्ल गोम्स और एकलव्य भट्टाचार्य जैसी हस्तियां भी ब्लॉगर्स से रू-ब-रू हुईं...दिन भर चले इस कार्यक्रम में 200 ब्लॉगर्स के अलावा सोशल मीडिया एक्सपर्ट्स ने हिस्सा लिया...रवि सुब्रह्मण्यम और किरन मनराल जैसे नामचीन लेखकों ने लेखन और ब्लॉगिंग स्किल्स पर ब्लॉगर्स के साथ अपने अनुभव बांटे...कवि अरसु ने अपनी ब्लॉगिंग यात्रा का दिलचस्प ढंग से ब्योरा दिया...प्रसिद्ध ट्रैवल ब्लॉगर अनुराधा गोयल के ट्रैवलिंग से जुड़े संस्मरणों ने उपस्थित सभी लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया...ब्रैंड्स और एडवरटाइजिंग के ब्लॉगिंग से रिश्ते पर अनग देसाई, मनु प्रसाद और लक्ष्मीपति भट्ट ने प्रकाश डाला...


युवाशक्ति की रुचि से जुड़े मुद्दों पर एकलव्य भट्टाचार्य, वसुंधरा दास और कार्ल गोम्स के पैनल के साथ इंटरएक्टिव सेशन हुआ...कॉन्फ्रेंस में अनिल पी ने बताया कि ब्लॉग की किस्सागोई में फोटोग्राफ कितनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं...म्युज़िक जर्नलिस्ट अर्जुन रवि और दिग्गज टैक्नोलॉजी ब्लॉगर अमित अग्रवाल ने अपनी सफल ब्लॉग गाथा का उल्लेख किया...प्रसिद्ध फूड ब्लॉगर कल्याण करमाकर ने फूड ब्लॉगिंग वर्कशाप की अगुआई की...जयहिंद टीवी के अभिज्ञान झा ने बताया कि किस तरह ब्लॉग के लिए प्रीमियम वीडियो कंटेट बनाया जा सकता है...पूरे इवेंट को बड़े प्रभावशाली ढंग से अश्विन मुशरान ने होस्ट किया...इस दौरान स्टैंडअप कामेडियन जमशेद राजन ने दर्शकों को अपनी चुटकियों से खूब गुदगुदाया...

कार्यक्रम के अंत में 16 कैटेगरी में टॉप ब्लागर्स के नामों का ऐलान किया गया...इनमें हिंदी में देशनामा का नाम शामिल था...क्रिएटिव राइटिंग में डॉ रोशन राधाकृष्णन और फैशन कैटेगरी में रोक्सेन डिसूजा समेत सभी विजेता ब्लॉगर्स के नाम इस लिंक पर देखे जा सकते हैं...
इवेंट को अविस्मरणीय बनाने के लिए ब्लॉग अड्डा के फाउंडर और सीईओ नीरव सांघ्वी ने सभी ब्लॉगर्स और उपस्थित मेहमानों का शुक्रिया अदा किया...




मैं भांजी की शादी में व्यस्त रहने के कारण चाह कर भी 9 फरवरी को मुंबई नहीं जा सका...इसका मुझे हमेशा मलाल रहेगा...अवार्ड्स के लिए जूरी ने हिंदी में नामांकित ब्लॉग्स में फाइनल राउंड के लिए 9 ब्लॉग्स को चुना था...जनवरी के आखिरी हफ्ते में इन ब्लॉग्स के लिए पब्लिक से खुली वोटिंग कराई गई...आयोजकों के अनुसार ब्लॉग को टॉप चुने जाने में 80 प्रतिशत जूरी के मत और 20 प्रतिशत वोटिंग की हिस्सेदारी थी...

मेरे लिए ये दुगनी खुशी का मौका इसलिए भी है, क्योंकि चार दिन पहले ही देश के एक और अग्रणी ब्लॉगिंग मंच इंडीब्लॉगर्स ने पिछले साल पॉलिटिकल न्यूज कैटेगरी में देशनामा को मिली ट्रॉफी मेरे पते पर भेजी थी...





देशनामा के लिए ये गौरव आप सब मित्रों की दुआओं और पाठकों के निरतंर मिलते रहे प्यार के बिना संभव नहीं था...इसलिए आखिर में मेरा ये प्रिय गाना फिर से आप सब की नज़र...





29 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत बहुत बधाई खुशदीप भाई, मजा आ गया, अब तो हिन्दी वालों की ऊर्जा और बढ़ जानी चाहिये

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. शुक्रिया विवेक भाई,

      हिंदी वाले अपनी पर आ जाएं तो सारे फट्टे चक कर रख दें...बस इनके संगठित होने की ज़रूरत है...

      जय हिंद...

      हटाएं
  2. मुबारक ,,बधाई ,,कोंग्रेचुलेशन ,,,,,सर्वर्श्रेष्ठ खुशदीप भाई का सर्वश्रेष्ठ ब्लॉगर के लिए चयन मुबारकबाद के मुस्तहक़ है ,,भाई खुश दीप ऐसे ही खुशियों के दीप जलाते रहे ,,सेहतयाब रहे ,,,कामयाब रहे ,,खुश रहे ,,लंबीउम्र हो और खुशदीप भाई हमेशा खिलखिलाते रहे खुश रहे ,,,,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. अख्तर भाई,

      आंप जैसे भाइयों का साथ है तो मैं अपनी खुशी में अकेला कैसे रह सकता हूं...

      जय हिंद...

      हटाएं
  3. हमें तो ऐसा लग रहा है कि जैसे हमें ही यह सम्‍मान मिला हो। आपको ढेरों बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. अजित जी,

      आप की ये टिप्पणी मेरे लिए इस अवॉर्ड से कहीं ज़्यादा कीमती है...

      जय हिंद...

      हटाएं
  4. उत्तर
    1. राकेश वीर जी,

      पंजाबी रॉक्स इन हिंदी टू...

      जय हिंद...

      हटाएं
  5. बधाई खुशदीप भाई !
    ब्लॉग अड्डा द्वारा दिया गया यह पुरस्कार प्रभावशाली है , हिंदी ब्लॉग जगत इससे काफी ताकत महसूस करेगा !
    मंगलकामनाएं देशनामा को !

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. सतीश भाई,

      मैं तो समझता था कि ताकत सिर्फ़ अपने मक्खन से आती है...

      जय हिंद...

      हटाएं
  6. कुछ समय पहले जिसको लोग ब्ला ब्ला कहते थे, अब वह एक मजबूत एवं सशक्त रूप लेता जा रहा है। आपको बधाई!

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. कुलवंत पापे,

      ब्ला ब्ला नहीं ब्लागर की बला...

      जय हिंद...

      हटाएं
  7. बहुत बढिया . बहुत बहुत बधाई . आपकी मेहनत रंग लाई !

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. डॉक्टर साहब, आप जैसे बड़े भाई के स्नेह का प्रताप है...

      जय हिंद...

      हटाएं
  8. बहुत बहुत बधाई इस सम्मान की खुशदीप जी ...

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. दिगंबर भाई जी,

      शु्क्रिया आपके एक सम्मान को तो मैं ना जाने कब से संभाल रहा हूं...

      जय हिंद...

      हटाएं
  9. आज कल तो अवार्ड्स और सम्मान खरीदे जाते है सुना है ??.....नहीं तो भारत रतन सचिन के बजाये ध्यानचंद को मिलता ....

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. कौशल भाई,

      शुक्रिया...आपने मुझे सचिन तेंदुलकर तो समझा...वैसे बिना परखे सुनी हुई बातों को अफ़वाह कहते है...रही बात सचिन बनाम दद्दा ध्यानचंद की तो एक लिंक दे रहा हूं, हो सके तो इसके अंत में मेरी दद्दा के सुपुत्र अशोक ध्यानचंद से हुई बातचीत को ज़रूर सुनिएगा...

      भारत रत्न से जुड़े सवाल...खुशदीप

      जय हिंद...

      हटाएं
    2. HARSHVARDHANNovember 27, 2013 at 10:04 PM
      अच्छी पहल।
      वैसे 1977 ई. में जब जनता पार्टी की सरकार थी तब इन्होंने "भारत रत्न" पुरस्कार को बंद कर दिया था लेकिन 1980 ई. में कांग्रेस की सरकार ने इसे फिर से शुरू कर दिया था।

      हटाएं
  10. उत्तर
    1. प्रवीण भाई,

      आपने मेरी लगभग हर पोस्ट पर टिप्पणी कर जो मेरा हौसला बढ़ाया, उसे कभी नहीं भूल सकता...

      जय हिंद...

      हटाएं
  11. बधाई शुभकामनाएं खुशदीप जी

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. पाबला जी,

      सच पूछिए तो नौ तारीख को अवॉर्ड का ऐलान हुआ और मुझे 10 तारीख तक पता ही नहीं चला...यही सोच रहा था अगर अव्वल आया होता तो पाबला जी से ज़रूर सूचना मिल जाती...वैसे ही जैसे पिछले साल इंडीब्लॉगर अवॉर्ड की आपने फेसबुक पर सबसे पहले दी थी...इस बार तो 24 घंटे बीतने पर भी कुछ नहीं पता चला था तो समझ बैठा था कि किसी और के नाम का ऐलान हुआ है, ब्लॉगअड्डा ने अपनी साइट पर विनर्स की लिस्ट जारी की तो ट्रॉफी जीतने का पता चला...

      जय हिंद...

      हटाएं
    2. उस समय तो मैं अस्पताल की रौनक बढ़ा रहा था :)

      हटाएं
  12. शुक्रिया ज़ाकिर भाई...

    जय हिंद...

    उत्तर देंहटाएं
  13. बधाई। ये योग्यता तो तुम्हारे भीतर पहले से ही थी, औरों ने अब पहचानी। अभी और इसे पहचानेंगे.. जमाए रहो..

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. श्रीकांत भाई,

      आपका ये स्नेह बना रहे, इसके लिए हमेशा प्रयासरत रहेगा...

      जय हिंद...

      हटाएं
  14. कई दिनों से
    पठन-पाठन से दूर था ।
    किन्ही कारणों से
    मज़बूर था ।
    आज जो देखा देशनामा,
    बधाई और शुभकामनाओं का
    हलफनामा
    मैं थोड़ा
    पीछे रह गया
    पहले जो सबने कहा
    अब कह दिया
    बधाई हो खुशदीप भाई
    बधाई हो, बधाई हो

    उत्तर देंहटाएं