शनिवार, 15 जून 2013

चेहरा ही सब कहता है...खुशदीप

फेकिंग न्यूज़ एक बहुत मज़ेदार वेबसाइट है...उसी में एक सैटायरिकल पोस्ट में बताया गया है कि हमारे सारे मंत्री वयस्क (बायोलॉजिकली) हैं, इसलिए चेहरों पर अपने भाव छुपा लेते हैं...लेकिन अगर बच्चे होते तो उनके मुख की कैसी भंगिमाएं होतीं, उसी की एक बानगी...(बच्चों के लिए प्रेम करने वालों से अग्रिम क्षमाप्रार्थना के साथ...)


CBI तो क्या FBI भी नहीं पता लगा सकती कि मैंने पैसे कहां छुपा रखे हैं...



मुझे कभी इल्म भी नहीं हुआ कि मेरी सारे फोन टैप किए जा रहे हैं...


अरे बाप रे, उन्होंने मेरे पैसे का पता लगा लिया....


कोई सबूत नहीं है कि मैंने फंड खाया है, फिर मैं क्यों इस्तीफ़ा दूं...
 
 

क़ानून अपना काम करेगा...
 

मैं अपना बयान पहले ही वापस ले चुका हूं, माफ़ी भी मांग  चुका हूं...
 


सूखे और महंगाई पर विचार करने के लिए कैबिनेट बैठक


बड़ी भूमिका के लिए तैयार, देश की समस्याओं का सामना करने के लिेए तैयार...


पॉलिसी पैरालिसिस (काम पर सरकार)...
 
 
 
AND ABOVE ALL
फर्रूखाबाद तो आ जाओगे, पर वापस जाकर भी दिखाओ...


(आभार- मिश्टिक जर्नो, फेकिंग न्यूज़)
 

19 टिप्‍पणियां:

  1. बेहतरीन ... । अत्यंत रोचक

    उत्तर देंहटाएं
  2. गजब की मुद्राएं और सटीक कैप्शन!!

    उत्तर देंहटाएं
  3. आइडिया अच्छा है पर
    पर कहाँ प्यारे-प्यारे भोले-भाले बच्चे और कहाँ घिसे-घिसाए खूसट नेता!

    उत्तर देंहटाएं
  4. चेहरों से सब पता चल रहा है

    उत्तर देंहटाएं
  5. सही कहा आपने... बच्चों में कुछ भी छिपाने का गुण नही होता। लेकिन बड़े चेहरे के भाव छिपाने मे माहिर होते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  6. बिल्कुल सही कहा..इस चेहरे को यूंही दिल की जुंवा नहीं कहा जाता।। मजेदा प्रस्तुति।।। राजनीति की अच्छी बख्खैयां उधेड़ी हैं।।।

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत सुन्दर...बहुत ही सुन्दर....
    चेहरा पढ़ना गजब रहा...

    उत्तर देंहटाएं
  8. गजब की मुद्राएं और सटीक कैप्शन!!

    उत्तर देंहटाएं