शनिवार, 24 मार्च 2012

बेटा Chatting ही नहीं Setting भी करता है..खुशदीप



तुलसी की जगह Money Plant ने ले ली,
​चाची जी की जगह Aunt ने ले ली...

पिताजी जीते-जी Dad हो गए,
​आगे और भी है, आप तो अभी से Glad हो गए...
 

जीती-जागती मां बच्चों के लिए Mummy हो गई,
10 रुपए की Maggi जो इतनी Yummy हो गई...

भाई Bro हो गए, बहन Sis हो गई,
​दादा-दादी की हालत तो टाएं-टाएं Fiss  हो गई...



दिन भर बेटा Chatting ही नहीं करता

​रात में मोबाइल पर Setting भी करता है...



बड़ी बुरी दशा Nurse के Mister की हो गई,
​बेचारे की तो बीवी भी Sister हो गई...

मुन्नी-शीला बदनाम हो  सिनेमा में Fit हो गई,
चिकनी चमेली भी पऊआ चढ़ा के Hit हो गई...


(ई-मेल पर आधारित )


11 टिप्‍पणियां:

  1. जय हो, नये जमाने में तो सब बदला जा रहा है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. सत्य वचन आज के माहौल के हिसाब से सही है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. यह रचना जरूर मक्खन ने लिखी होगी ....
    शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  4. बड़ी बुरी दशा Nurse के Mister की हो गई,​
    ​बेचारे की तो बीवी भी Sister हो गई...​

    हा हा हा !
    सही मूड फ्रेश किया है ।

    उत्तर देंहटाएं
  5. बढ़िया... परम सत्य लिखा है।

    उत्तर देंहटाएं
  6. हर उम्र के लोंग जूते हैं तो बेटा पीछे क्यों रहे.

    उत्तर देंहटाएं
  7. जुटे..
    वैसे जुते भी फिट ही हो रहा है ..

    उत्तर देंहटाएं