रविवार, 4 मार्च 2012

बुज़ुर्गियत की मुस्कान...खुशदीप​ ​​


सांध्यकाल से जुड़ी पोस्ट की आखिरी कड़ी ​शुक्रवार को ही लिखनी थी...लेकिन शनिवार को 'नूरा कुश्ती' में उलझ गया...लीजिए बुज़ुर्गियत की वो कुछ गुदगुदाती बातें, जिनसे हमें भी कभी न कभी पेश आना ही पड़ेगा...
​​​
​​


एक सीनियर सिटीजन ने अपने अस्सी साल के दोस्त से कहा...​
​मैंने सुना तुम शादी करने जा रहे हो..​
​हां, ठीक सुना है...​
​क्या मैं उसे जानता हूं...​
​नहीं...​
​क्या वो दिखने में सुंदर है...​
​हूं...खास नहीं...​
​क्या वो अच्छा खाना बनाती है...
​​नहीं, वो कुकिंग में अच्छी नहीं है...​
​ बहुत अमीर है...​
​नहीं ओल्ड एज पेंशनर है...​
​फिर तुम्हें बहुत प्यार करती होगी...​
​कह नहीं सकता...​
​व्हाट द हैल...फिर तुम क्यों इस उम्र में उससे बंधना चाहते हो...​
​....क्योंकि वो अब भी कार बहुत अच्छी चला लेती है...​
​​
..........................................................

एक बुज़ुर्ग अपने पड़ोसी को बता रहे थे कि उन्होंने सुनने की नई मशीन ली है...कीमत ज़रूर चार हज़ार डालर है, लेकिन है स्टेट ऑफ़ द आर्ट...​बिल्कुल परफेक्ट...
​पड़ोसी...रियली, व्हाट काइंड इट इज़...​
​बुज़ुर्ग...अभी...12 बजकर 20 मिनट​.......


...........................................................

82 साल के एक जनाब मेडिकल चेकअप के लिए डाक्टर के पास गए...​
​​
​थोड़े दिन बाद डॉक्टर  ने उन्हें जवान खूबसूरत महिला के साथ हाथों में हाथ डालते घूमते देखा...​बड़े ही खुश और चहकते नज़र आ रहे थे...​
​​
 डॉक्टर ...यू आर लुकिंग ग्रेट...​
​​
​बुज़ुर्ग... डॉक्टर  आप की सलाह ने तो जादू का काम किया है...बस उसी को मान रहा हूं...गेट ए हॉट  मैम एंड बी चियरफुल...​
​​
डॉक्टर...ओह...मैंने ये नहीं कहा था...मैंने कहा था...यू हैव गौट  ए हार्ट मर्मर, एंड बी केयरफुल...

9 टिप्‍पणियां:

  1. ​डाक्टर...ओह...मैंने ये नहीं कहा था...मैंने कहा था...यू हैव गाट ए हार्ट मर्मर, एंड बी केयरफुल...्हा हा हा ……………ऐसा सुनने का तो ज्यादा फ़ायदा हो गया

    उत्तर देंहटाएं
  2. उम्र का बढ़ना तो दस्तुरे जहाँ हैं ....
    अगर महसूस न करो तो बुढ्पा कहाँ हैं ..हा हा हा हा हा

    उत्तर देंहटाएं
  3. अपना ही मजा है हर उम्र का ...
    शुभकामनायें आपको !

    उत्तर देंहटाएं
  4. मतलब यह कि कार चलाना जारी रखना पड़ेगा।

    उत्तर देंहटाएं
  5. आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा आज के चर्चा मंच पर की गई है। चर्चा में शामिल होकर इसमें शामिल पोस्ट पर नजर डालें और इस मंच को समृद्ध बनाएं.... आपकी एक टिप्पणी मंच में शामिल पोस्ट्स को आकर्षण प्रदान करेगी......

    उत्तर देंहटाएं