खुशदीप सहगल
बंदा 1994 से कलम-कंप्यूटर तोड़ रहा है

जलने पर रामबाण है अंडे का फंडा...खुशदीप

Posted on
  • Saturday, September 24, 2011
  • by
  • Khushdeep Sehgal
  • in
  • Labels: , , ,

  • एक फॉर्म हाउस मालिक शाम के धुंधलके में अपने लॉन में कीटनाशकों का छिड़काव कर रहा था...ये देखने के लिए ड्रम में कितना कीटनाशक बाकी बचा है, उसने लाइटर की रोशनी में ढक्कन खोलकर झांकना चाहा...ड्रम से गैस का भभका निकला और फॉर्महाउस मालिक का चेहरा आग में झुलसने लगा..

    .उसकी चीख-पुकार पड़ोस के घर में रहने वाली महिला ने भी सुनी...किचन की खिड़की से महिला ने फॉर्म हाउस मालिक की हालत देखी...उसने बिना वक्त गवाएं किचन से अंडों की ट्रे उठाई और बाहर भागी...फौरन उसने अंडों को तोड़-तोड़ कर पीला योक वाला हिस्सा अलग कर व्हाईट (एल्बुमिन) वाला पार्ट फॉर्महाउस मालिक के चेहरे पर लगाना शुरू कर दिया...

    थोड़ी देर में वहां एंबुलेंस पहुंच गई...एंबुलेंस से बर्न स्पेशलिस्ट बाहर निकले तो उन्होंने फॉर्महाउस के मालिक पर एग व्हाईट मला देख कर पूछा कि ये किसने किया...सबने महिला की ओर इशारा किया...पूरी मेडिकल टीम ने महिला की सराहना करते हुए कहा कि उसकी प्रेसेंस ऑफ माइंड से फॉर्महाउस मालिक का चेहरा बिगड़ने से बच जाएगा...



    कुछ हफ्ते अस्पताल में रहने के बाद फॉर्म हाउस मालिक ने घर वापस आने पर पहला काम पड़ोसी महिला के घर जाकर फूलों का गुलदस्ता दिया...फॉर्म हाउस मालिक के चेहरे की त्वचा किसी बच्चे की त्वचा की तरह ही मुलायम थी....

    फायरमैन को भी फर्स्टएड के लिए पहला पाठ यही पढ़ाया जाता है कि आग से जले शरीर के हिस्से पर पहले खूब ठंडा पानी डाला जाए...जब त्वचा की परतें पर्याप्त ठंडी हो जाए तो जले हिस्से पर अंडे के व्हाइट का लेप कर दिया जाए...अंडे के व्हाईट हिस्से में कोलेजन (विटामिनों से भरा प्लासेंटा) होता है...यही कोलेजन कुछ ही दिन में जले हुए हिस्से की त्वचा को दोबारा विकसित करने में चमत्कारिक काम करता है...

    (ई-मेल से मिली सूचना जनहित में प्रसारित)

    16 comments:

    1. अब देखते हैं कौन है जो उनको कुछ कह सके ?
      अब हम आ गए हैं मैदान में ऐसे , जिससे सांप भी न मरे और लाठी भी टूट जाए.

      जिस बात को रखना चाहो गुप्त
      उसे मित्रां से भी रखो लुप्त

      सो सॉरी बता न पाएंगे कि हैं कौन हम ?
      परंतु कोई पहचान जाए तो इंकार हम न करेंगे !!!

      http://www.museke.com/love_songs_playlist

      ReplyDelete
    2. खुशदीप जी सही इलाज हे जी, धन्यवाद

      ReplyDelete
    3. हैं भई...अब परीक्षण कैसे करें...?

      बेहतर जानकारी....

      ReplyDelete
    4. अच्छी जानकरी दी...जनोपयोगी.

      ReplyDelete
    5. बड़ी ही उपयोगी सलाह।

      ReplyDelete
    6. यह जानकारी तो हमें भी नहीं थी ।
      अंडे के व्हाईट हिस्से में कोलेजन (विटामिनों से भरा प्लासेंटा) होता है---??

      ReplyDelete
    7. देखिये जी हेअडिंग सही दिया करे आज कल बहुत कुछ बहुत जगह जल रहा हैं क्या ये अगर अंडे की सफेदी का लेप काम कर सकता था तो आप ने अभी तक कहीं भी इस लेप को क्यूँ नहीं बताया .
      और अगर हर प्रकार की जलन से ये राहत नहीं दिला सकता तो ये हेअडिंग बिलकुल गलत हैं
      मेरी आपत्ति दर्ज की जाए और शीर्षक तुरत बदला जाये ना बदलने की सूरत में मेरा उठाया हुआ कदम आप को मान्य हो गा और
      बता कर कदम उठाने में आप को ये कहने का मौका नहीं होगा की बताया नहीं
      भ्रामक जानकारी हर जले पर ना तो फायर man कुछ कर सकता हैं ना बेचारा अंडा

      ReplyDelete
    8. ये तो बहुत ही उपयोगी जानकारी है।

      ReplyDelete
    9. अंडे के अलावा कोई और लेप भी हो सकता है खुशदीप भाई.
      नहीं तो द्विवेदी जी का 'बेचारा अंडा'
      सतीश जी की 'बेचारी मुर्गी'का धर्म
      संकट है.

      ReplyDelete
    10. बढिया उपयोगी जानकारी...

      आभार.....

      ReplyDelete
    11. इसी प्रकार गवारपाठे के गुदे का प्रयोग भी लाभकारी है।

      ReplyDelete

     
    Copyright (c) 2009-2012. देशनामा All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz