गुरुवार, 3 मार्च 2011

अमीरों की सभी शादियों की बाप...खुशदीप

कुछ दिन पहले शादियों पर बेतहाशा पैसा बहाने पर पोस्ट लिखी थी...संयोग से इसी पोस्ट के अगले दिन भारत सरकार से छन कर रिपोर्ट आई कि शादियों पर फिजूलखर्ची को रोकने के लिए कुछ बंदिशें लगाने पर विचार हो रहा है...सरकार इस बाबत संसद में बिल पेश करने वाली है...भारत में जितना भी खाद्यान्न बर्बाद होता है उसका 15 फीसदी हिस्सा शादियों की दावतों से ही जुड़ा होता है...भारत के खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री के जी थॉमस का कहना है कि शादी-समारोहों में ही अन्न की बर्बादी को रोक लिया जाए तो भुखमरी के शिकार करोड़ों लोगों का पेट भरा जा सकता है...



ये तो रहा सरकार का बयान...अब देखिए चिराग तले अंधेरा कैसे होता है...दिल्ली में कांग्रेस के एक नेताजी हैं- कंवर सिंह तंवर...धन्ना सेठ हैं...2009 में बीएसपी के टिकट पर लोकसभा चुनाव और उससे पहले छत्तरपुर से विधानसभा चुनाव भी लड़ चुके हैं...दोनों बार हार गए लेकिन सबसे अमीर उम्मीदवार होने की वजह से सुर्खियों में खूब नाम बटोरा...

अब ज़रा दिल थाम कर सुनिए जनाब नेता जी के बेटे ललित की शादी का किस्सा...इसी एक मार्च को ललित पूर्व निर्दलीय विधायक सुखबीर सिंह जौनपुरिया की बेटी योगिता के साथ परिणय-सूत्र में बंधे...वर-वधू दोनों एमबीए हैं...इस शादी पर कितना खर्च हुआ होगा इसका अंदाज इसी से लगा लीजिए दूल्हे को तोहफ़े में हेलीकॉप्टर मिला है...लड़के के परिवार को नेग में 21 करोड़ रुपये मिले है...शादी को लेकर चार समारोह होने हैं जिन पर लड़के-लड़की वालों का मिलाकर 250 करोड़ रुपये का खर्च बताया जा रहा है...मुख्य समारोह दिल्ली से सटे हरियाणा के जौनपुर गांव में हुआ जहां 15,000 मेहमान शरीक हुए...जिसमें जौनपुर गांव के सारे लोग भी शामिल थे...सभी मेहमानों को 11-11 हज़ार रुपये शगुन में दिए गए...

रविवार शाम को दिल्ली के अशोक होटल में वीआईपी रिसेप्शन होगा..जिसमें सभी बड़े नेताओं के साथ शाहरुख खान जैसी बॉलीवुड की हस्तियां भी शिरकत करेंगी...आज यानि गुरुवार को गुर्जर समुदाय की दावत का कार्यक्रम हैं जिसमें फिल्म स्टार नेहा धूपिया और गायक गुरुदास मान अपनी परफारमेंस से मेहमानों का दिल बहलाएगे...

पिछले हफ्ते फतेहपुर बेरी के असोला में कंवर सिंह तंवर के फार्महाउस में लगन की रस्म हुई....इसमें 2000 मेहमानों में से हर एक को तीस ग्राम चांदी का बिस्किट, सफारी सूट और 2100 रुपये नकद दिए गए...लड़के का टीका ढाई करोड़ और परिवार के अन्य 18 सदस्यों का टीका एक करोड़ में किया गया...

ढाई सौ करोड़ की देखिए अब वैल्यू क्या है...

13 टिप्‍पणियां:

  1. खुशदीप भाई !

    ये क्या हो रहा भाई ,ये क्या हो रहा है ?
    ये आज़ाद भारत है ,यहाँ हमारी सरकार है.
    क्या सच में सरकार इस और ध्यान दे रही है ?
    क्या कोई कमेटी या कमीशन बैठी अभी इस शादी की जांच पर ? कानून तो बनने में तो समय लग सकता है .

    उत्तर देंहटाएं
  2. खुशदीप भाई ... लगता है आपको किसी ने गलत खबर दी थी कि यह लोग आपका ब्लॉग पढ़ते है !

    चलो कोई बात नहीं ... हम आपका ब्लॉग रोज़ पढ़ते है ... हम ऐसा नहीं करेंगे ! बाई गोड की कसम !

    जय हिंद !

    उत्तर देंहटाएं
  3. भाई हम क्यों अपना मन दुखी करें ।

    उत्तर देंहटाएं
  4. मौजा ही मौजां है खुशदीप भाई।
    लोकतंत्र में राजतंत्र का मजा इसे ही कहते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  5. दावतों पर नियंत्रण होना ही चाहिए। शादी में कोई किसी को कुछ भी दे दे, लेकिन सार्वजनिक प्रदर्शन पर भी रोक लगनी ही चाहिए।

    उत्तर देंहटाएं
  6. लानत भेजता हूँ ऐसे भोंडे प्रदर्शन पर.

    तसल्ली इसी बात की है कि स्विस बैंक में जमा रुपयों से ये रुपया बेहतर है जो किसी बहाने से बाहर तो निकला :)

    उत्तर देंहटाएं
  7. महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  8. क्‍या लिखें ऐसे 'नालायकों' पर।
    भैंस के आगे बिन बजाने वाली बात होगी।
    खैर
    अच्‍छी पोस्‍ट। गंभीर मुददे को आपने फिर से उठाकर चिंतन का विषय तो रख ही दिया।
    खुशदीप जी कभी वक्‍त मिले तो आईए हमारे भी ब्‍लाग में और अपने विचारों से अवगत कराएं।

    उत्तर देंहटाएं
  9. जिस पर है वह लुटा रहा है . और २५० करोड रुपल्ली क्या ज्यादा है . जब लोग ५००० करोड के मकान मे रह रह है . अफ़्सोस तो इस बात का बात कोई ब्लागर क्यो ना शामिल हुआ उस दावत में

    उत्तर देंहटाएं
  10. अब अपनी तो एक ही शादी हुई और अब घर में कोई शादी नहीं है, तो क्या ज्ञान बाँटें नहीं तो लोग कहेंगे खुद की शादी धूमधाम से कर ली और अब चलें हैं ज्ञान बाँटने।

    अगली शादी घर में कई सालों बाद होगी।

    उत्तर देंहटाएं
  11. क्या कहें ..जहाँ लोग भूख से मर रहे है वह ये तमाशे ....

    उत्तर देंहटाएं
  12. ek aam aadmi ke liye yeh saadi ek pari lok ka sapana hai------

    jai baba banaras---

    उत्तर देंहटाएं