रविवार, 20 फ़रवरी 2011

पुलिस जी, आओ ढोए तुम्हारी पालकी...खुशदीप



 


 
ये तस्वीरें आज़ादी से पहले ब्रिटिश हुकूमत की नहीं हैं ...ये तस्वीरें यूपी के रामपुर मिलक में 19 फरवरी को ली गईं...खाता नगरिया गांव का किसान शाबू खां गन्ना छीलने गया था...उसकी लाश दूसरे गांव के जंगल में मिली...तफ्तीश के लिए पुलिस पहुंची... लेकिन ये देखकर ठिठक गई कि दोनों गांवों के बीच एक नाले जैसी पतली नदी बहती है...गांव वालों का ये रोज़ का रास्ता बेशक हो लेकिन पुलिस वाले साहब भला कैसे पानी में पैर रखें...जूते-पैंट भीगने का डर...वहीं सवाल करने लगे तो मृतक के परिजनों ने घटनास्थल तक चलने का अनुरोध किया....कोतवाल बीडी शर्मा और एएसआई सुरेंद्र सिंह बराच की हिचक देखकर गांववालों ने इल्तज़ा की कि हमारे कंधों पर चलिए हुजूर...और दोनों साहब भी तैयार हो गए...कौन कहता है कि देश को आज़ाद हुए 64 साल हो गए....
 

20 टिप्‍पणियां:

  1. धन्य है....


    वे लोग जिनके कन्धों को इन महान आत्माओं को सवार करने का मौका मिला.

    उत्तर देंहटाएं
  2. ऐसी महान अत्मावो को पृथ्वी पर नहीं नरक में होना चाहिए. मतलब कि नदी में ही ससुरे को डुबो देना चाहिए था.

    उत्तर देंहटाएं
  3. तो क्या पुलिस वाले गांव वालों को कंधों पर उठाएं :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. ये क्या तफ्तीश करेंगे। फोटो खींचने वाले ने इन की तफ्तीश कर दी। नाला पार कराने का बिल भी सरकार से पास करवा लिया हो तो कहा नहीं जा सकता।

    उत्तर देंहटाएं
  5. धन्य हो ...जीवित ही इंसानों के ऊपर सवार हो गए

    उत्तर देंहटाएं
  6. यह साले उधर तो जुते साफ़ करते हे ओर इधर गरीब जनता के आगे नखरे करते हे, अरे बाबा इन्हे बीच धार मे फ़ेंक देना था

    उत्तर देंहटाएं
  7. जीते जी कंधे की सवारी, क्या बात है।

    उत्तर देंहटाएं
  8. सब लाट साहब बने घूम रहे हैं....

    उत्तर देंहटाएं
  9. ठंड बहुत है... जब तक गर्मी न मिले पैर आगे को बढ़ते ही नहीं :)

    उत्तर देंहटाएं
  10. कालजयी फोटो है ये उत्तर प्रदेश प्रशासन की :)

    उत्तर देंहटाएं
  11. एक दो तीन तो नहीं कर रहे हैं?

    उत्तर देंहटाएं
  12. यह भी जानने लायक है कि अधिकतर घटनास्थल पर पुलिस कि आवभगत करने वाले अपराधियों के परिजन और मित्रगण ही होते हैं !

    उत्तर देंहटाएं
  13. uut pradesh hai yeha par kuch bhee ho sakata hai----
    jai baba banaras------------

    उत्तर देंहटाएं
  14. Pulis bhi mahaan है apne mahaan Bharat desh ki ... angrezi rawaayat ka paalan kar rahi है ab tak .....

    उत्तर देंहटाएं
  15. ohhhooooo...

    had ki bhi had hai, maza to tab aata jab janab phisal kar gir jaate

    उत्तर देंहटाएं
  16. 'kar chale hum fida jaano tan saathion,ab tumhaare havaale vatan
    saathion'
    Arre ! bhai Kushdeepji dekhte nahi
    aap, jaano tan to havaale kar hi diya hai in janaab ne aur phir vatan ko aap hum sabhi ke havaale karte hue jaa rahe hain.Aur kya chchiye in janaab se ?

    उत्तर देंहटाएं

  17. हद तो यह है कि, यह खबरिया तुम कहाँ से तोड़ लाये ।
    और भी बहुत से कारनामें होते हैं, इन वर्दी वालों के.. क्या क्या देखोगे ?

    उत्तर देंहटाएं
  18. सही में नदी में ही ससुरे को डुबो देना चाहिए था
    परजा तंतर
    पुलिस महान...
    इस जंगल राज में जनता परेसान

    उत्तर देंहटाएं