शुक्रवार, 5 मार्च 2010

एवरीथिंग इज़ लेस, मेकिंग अस सेंसलेस...खुशदीप

गाओ मेरे मन,
चाहे रे सूरज,
चमके न चमके,
लगा हो ग्रहण,
गाओ मेरे मन....

ऊपर जो मैंने गाने का लिंक दिया है, थोड़ा वक्त हो तो इसे ज़रूर सुन लीजिए...वाकई हम भारतवंशी भी बड़े संतोषी जीव होते हैं...जिस हाल में भी हो, खुश रहना जानते हैं...हमारे प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि हमारी अर्थव्यवस्था में इतनी कुव्वत है कि पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों को झेल सकती है वो भी महंगाई बढ़े बिना...सही कह रहे हैं डॉक्टर मनमोहन सिंह...हम हर हाल में जीना जानते हैं...

कभी कहा जाता था कि दाल रोटी खाओ, प्रभु के गुण गाओ...अब तो दाल रोटी भी पहुंच से बाहर होती जा रही है...फिर प्रभु के गुण कैसे गाए...भूखे पेट तो भजन भी न होए गोपाला..लेकिन आज मैं आपको बेहद अजीज की ओर से भेजे गए ई-मेल से रू-ब-रू कराता हूं...इक्कीसवीं सदी में कैसे हर बीतते दिन के साथ हमारे जीवन से सब कुछ लेस (कम या गायब) होता जा रहा है...


लेस...लेस...लेस...लेस

हमारा कम्युनिकेशन...वायरलेस

हमारी ड्रैस....टॉपलेस

हमारा टेलीफोन...कॉर्डलेस


हमारा खाना बनाना...फायरलेस (माइक्रोवेव)


हमारे युवा...जॉबलेस (बेरोज़गार)


हमारा खाना...फैटलेस (वसामुक्त)


हमारा श्रम...एफर्टलेस (बिना ज़ोर लगाए)


हमारा आचरण...वर्थलेस (बिना किसी मोल )


हमारे रिश्ते...लवलेस (बिना प्यार)


हमारा रवैया...केयरलेस (बेपरवाह)


हमारी भावनाएं...हार्टलेस (पत्थरदिल)


हमारी राजनीति...शेमलेस (बेशर्म)


हमारी शिक्षा....वेल्यूलेस (मूल्यहीन)


हमारी गलतियां....काउंटलेस (अनगिनत)


हमारे तर्क...बेसलेस (आधारहीन)


हमारा जॉब...थैंकलेस (जिसकी कोई कद्र नहीं)


हमारी तनख्वाह...वेरी वेरी लेस (बहुत कम)


हमारे ई-मेल्स...यूज़लेस ( अनुपयोगी)




35 टिप्‍पणियां:

  1. एक-एक शब्द सत्य...
    बहुत ही बढ़िया पोस्ट ...
    बट इट वाज़ वैरी लैस ...(बहुत छोटी पोस्ट) ;-(

    उत्तर देंहटाएं
  2. सच्चाई और यथार्थ को दर्शाती.... यह मोर दैन ...लेस... पोस्ट..... बहुत अच्छी लगी....

    जय हिंद....

    उत्तर देंहटाएं
  3. सटीक, समयोचित एवं सर्थक रचना।

    उत्तर देंहटाएं
  4. i have to read all ur posts . it seems that it will be great ..............

    उत्तर देंहटाएं
  5. कितनी सच्ची सच्ची और खरी खरी बात!! :)

    बहुत बढ़िया!

    उत्तर देंहटाएं
  6. पर स्‍वीकारते भी हैं हम इनमें से लेस।
    सब तो स्‍वीकारते ही नहीं
    एक बात तो माननी होगी
    चाहे कितना ही कुछ भी हो जाए लेस
    पर खुशियां नहीं होती हैं लेस
    वे खुशियां इस लेस से ही उपजती हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  7. गाओ मेरे मन
    सुन्दर गीत
    जी हाँ बहुत फर्क है 'लेस' और 'लैस' में

    उत्तर देंहटाएं
  8. इस सूची में से कुछ चीजे ही हैं लेस (मिसिंग ) हमारे लिए तो ...
    मगर आपकी हर पोस्ट कुछ सोचने पर विवश करती है ...
    अच्छा प्रयास ....!!

    उत्तर देंहटाएं
  9. लेस से लैस है यह पोस्ट
    बढ़िया

    गीत भी बहुत भावपूर्ण

    उत्तर देंहटाएं
  10. ऐसा ही भारत देश है,
    सब कुछ जहाँ लेस है..

    एक एक बात सही है....कटु सत्य ...खुशदीप भाई प्रस्तुति के लिए आभार कहूँगा...बहुत अच्छी लगी आपकी यह पोस्ट..बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  11. इन सब लेस ( कमियों ) को झेल सकते हैं , यदि महंगाई , भ्रष्टाचार , प्रदुषण , कुपोषण , भुखमरी , आतंकवाद , अलगाववाद , और आबादी भी थोड़ी लेस हो जाये ।
    बढ़िया संकलन।

    उत्तर देंहटाएं
  12. वाह! जियो रजा!
    तुम्हारी पोस्ट- बोरियत लेस!

    उत्तर देंहटाएं
  13. बढ़िया मस्त पोस्ट लिखी है खुशदीप भाई , सुबह सुबह मज़ा आगया , मज़ा आजाता की आपकी पोस्ट पर एक भी टिप्पणी नहीं आती, तब यह पोस्ट होती टिप्पणीलेस मगर आपके पढने वाले हैं कि मानते ही नहीं ...

    उत्तर देंहटाएं
  14. और यह पोस्ट भी हार्मलेस है..।

    उत्तर देंहटाएं
  15. और हमारी ब्लोगिंग?

    हमारी ब्लोगिंग...सेंसलेस (निरर्थक)

    उत्तर देंहटाएं
  16. वाह भाई, एकदम लेसमलेस यानि टाप की पोस्ट.:)

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  17. सारी अच्‍छी पोस्‍ट देने का ठेका ले लिया क्‍या खुशदीप भाई? रोज कुछ न कुछ पते की बात निकाल लेते हो। आपका लेस तो कमाल है।

    उत्तर देंहटाएं
  18. are aaj ki aapki post blog jagat ka 'necklace' laga, sab kuch spotless tha, haan padhte-padhte han breathless ho gaye the fir speechless hokar senseless ho gaye :):):)
    haan nahi to...!!

    उत्तर देंहटाएं
  19. वाह क्या लेस पुराण लिखा है you are not less than a great person. iइस पोस्ट के लिये 100 चटके। आशीर्वाद वो गीत सुनती हूँ

    उत्तर देंहटाएं
  20. ारे खुशदीप मेरे जैसे लेट लतीफों और नालायकों के लिये इस पर पोस्ट पसंद का विजेट लगाओ न।

    उत्तर देंहटाएं
  21. अरे और भी कुछ नए आये हैं
    मियाँ बीबी = मेरिज लेस
    मेरिज = चिल्ड्रन लेस .
    बढ़िया पोस्ट है खुशदीप जी

    उत्तर देंहटाएं
  22. less ki is lambi lace ko na khichate hue 1000 baat ki ek baat marvelous post hai Sirji :)

    उत्तर देंहटाएं
  23. सब सच्चाई से लैस
    जय हिन्द, जय बुन्देलखण्ड

    उत्तर देंहटाएं
  24. ऐसा नहीं है.....
    बेईमान.... नॉटलेस
    भष्टाचारी... नॉटलेस
    कामचोर.... नॉटलेस
    गरीब..... नॉटलेस
    लड़को का अनुपात... नॉटलेस
    असंवेदशील....नॉटलेस


    और क्या क्या गिनाउं....बड़ी जल्दी निराश हो गए खुशदीप जी...

    उत्तर देंहटाएं
  25. विचारणीय पोस्ट है....बहुत बढ़िया

    उत्तर देंहटाएं

  26. सोचा किसी कमेन्ट-लेस पोस्ट को नवाज़ दूँ,
    वरना अगला यह न कहे कि,
    हमारी ब्लॉगिंग - थैन्कलेस !
    लौट कर यहीं आना पड़ा बिकॉज़
    दिस पोस्ट इज़ मॉरवलॅस .. mäŕvǝ-lǝs !

    उत्तर देंहटाएं